दुनिया के पहले इलेक्ट्रिक विमान ने भरी सफल उड़ान


हलो यू पी ( 13 - 05 - 2014 ) - लंदन : बिजली से चलने वाले दुनिया के पहले विमान ने अपनी पहली सफल उड़ान भरी। विमान निर्माता कंपनी एयरबस ने इसे बड़ा कदम बताते हुए कहा कि इलेक्ट्रिक ऊर्जा के इस्तेमाल से हवाई यात्रा का खर्च एक तिहाई तक कम हो सकता है। एक बार चार्ज होने के बाद विमान एक घंटे से अधिक समय तक आसमान में उड़ान भर सकता है। ई-फैन नाम के छोटे प्रयोगात्मक विमान ने पिछले महीने दक्षिण पश्चिम फ्रांस में बोर्डिक्स के नजदीक एयरपोर्ट से उड़ान भरी। इसके साथ ही विमानन सेवा ने कम लागत, कम शोर और पर्यावरण अनुकूल हवाई यात्रा की दिशा में अपना पहला कदम बढ़ा दिया है। ई-फैन की लंबाई 19 फीट से थोड़ी ज्यादा है। यह किसी हेयरड्रायर जितना ही शोर करता है। विमान को 120 लिथियम-आयन पॉलिमर बैटरीज से ऊर्जा मिलती है। अपनी पहली उड़ान के दौरान विमान करीब दस मिनट तक हवा में रहा था। एयरबस ने अपने बयान में कहा कि ई-फैन की एक घंटे की उड़ान का किराया 16 डॉलर (करीब 995 रुपए) आएगा जबकि पेट्रोल से चलने वाले छोटे आकार के विमान का एक घंटे की यात्रा का किराया 55 डॉलर (करीब 3282 रुपए) होता है। एयरबस दो तरह के ई-फैन विमान बनाने की योजना बना रही है। दो सीटों वाला ई-फैन 2.0 पूरी तरह से इलेक्ट्रिक ऊर्जा से संचालित विमान होगा जिसका इस्तेमाल प्रशिक्षण के लिए किया जाएगा। वहीं ई-फैन 4.0 का इस्तेमाल प्रशिक्षण और यात्रा दोनों के लिए किया जा सकेगा। इसे एक हाइब्रिड सिस्टम से ऊर्जा मिलेगी।

इस सेक्‍शन से अन्‍य ख़बरें

वीडियो

आज का स्पेशल

वर्ल्ड रिकॉर्ड : 6 दिन और 5 रातों तक पढ़ाकर बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड

विश्‍व में 85 धनकुबेरों के पास है दुनिया की आधी दौलत

विज्ञापन